Call Now: 8287999555 (For Online Counselling) / 9760545654
health

Health

हमें मालूम है कि आप क्या चाहते हैं ? एक स्वस्थ शरीर ना । आपके प्रश्न यहीं हैं ना क्या मै हमेशा स्वस्थ रह सकता हूँ ? क्या हमेशा स्वस्थ रहना मुमकिन हैं ? जी हाँ ! अपने शरीर को असंतुलनों से बचा कर रखना मुमकिन है और आसान भी है अपने आप को स्वस्थ रखना आपके अपने हाथों में है ।

इस मानव शरीर में असंतुलन होते कैसे है ? शरीर के यह अंग अस्वस्थ कैसे हो जाते हैं ? आपको बताएं ! आपके शरीर के लगभग 80 % असंतुलन आपकी खुशी की कमज़ोर अवस्था और विचारों की नकारात्मकता से उत्पन्न होते हैं ।

यह शरीर की बीमारियाँ और कुछ नहीं आपकी खुशी के खो जाने और विचारों की नकारत्मकता से उठने वाले धुए हैं ।

जीवन में अगर रिश्तों को मधुर रखना है, सफल होना है , धन सम्पदा पानी है , तो आपको पहले खुशी और स्वास्थ्य में संतुलन रखना होगा ।

स्वस्थ होने की पहली ज़रूरत है , आपका खुश होना । अपने विचारों को सकारात्मक एवं स्वस्थ कर लेना ।

प्रतिदिन उठती इच्छाओं और कम्फर्ट ज़ोन में जो अंतर होता है , वह बेचैनी का निर्माण करता है और बेचैनी सारी बीमारियों की जड़ है।

बस इस अंतर को घटाना है ।

कैसे पता चलता है कि इच्छाओं और कम्फर्ट ज़ोन में अंतर है ? चलो उदाहरण लेकर समझते हैं ।

मान लो आपकी इच्छा है कि आप कभी बीमार ना पड़ो , हमेशा तंदुरुस्त रहो । लेकिन आपका कम्फर्ट ज़ोन अपने विचारों को बदलने , सुबह उठकर दौड़ लगाने , प्राणायाम करने, योगा करने , सुबह की ठंडी ठंडी हवा लेने , जिम जाने या एरोबीक्स आदि करने का विरोध करता है ।

आपकी इच्छा है आपका शरीर चुस्त और दुरुस्त रहे लेकिन खाने पीने के विचार आपके कम्फर्ट ज़ोन मे ऐसे हैं जैसे कि खाओ पियो मौज करो ! ज़िंदगी बार बार थोड़े ही मिलती है ।

आपकी इच्छा है कि आप हमेशा तंदुरुस्त बने रहो , लंबी आयु हो , 60 -70 की आयु के बाद भी हमेशा स्वस्थ रहो परंतु आपके आराम दायक दायरे मे यह धारणा है कि एक आदमी 60 -70 वर्षो तक ही स्वस्थ रह सकता है , बाकी तो बोनस है ।

यही युद्ध जो तुम्हारी चेतन इच्छाओं और आराम दायक दायरों की विपरीत धारणाओं के बीच चल रहे हैं , आपको स्वस्थ नहीं होने देते । ऐसे में यह अंतर , निर्मित होता रहता है । यह अंतर , खिंचाव और बेचैनी पैदा करता है और आपका शरीर बड़ी तेज़ी से असंतुलित होने लगता है । जिन्हे बीमारियाँ कहते हैं ।

Copyright © 2009-2015 Happy Universe All Rights Reserved
Powered By: Sepal Technologies